9 Points ko Blog Post Publish Karne Se Pehle Check Kare हिंदी में पूरी जानकारी!

हैलो फ्रेंड्स, क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है की आपकी पोस्ट पब्लिश करने के बाद उसमे कोई कामी लगी है, या फिर आप अपनी पोस्ट लिखने के बाद सोचा है की इस्मान कोई गल्टी तो नहीं रह गई? तो आपको अपनी इस प्रॉब्लम का सॉल्यूशन इस पोस्ट के जरीये मिल जाएगा क्योनकी इस पोस्ट में मैं आपको बतुंगा की आपको अपनी ब्लॉग पोस्ट की पब्लिश बटन दबने से पहले किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

अगर आप अपने ब्लॉग पर बेहतर पोस्ट प्रकाशित करना चाहते हैं तो अपनी हर एक पोस्ट को प्रकाशित करना से पहले आला दी गई सभी पॉइंट्स को अपनी पोस्ट-प्रकाशित चेकलिस्ट में शामिल कर ले । तो फिर आओ दोस्तो शूरू करते है:

जब भी हम हमारे ब्लॉग को पोस्ट लिखते है तो हमारा एक फॉर्मेट होता है की हम सब पहले क्या करना है फिर उसके बाद क्या या किस फ्लो में चलना है। अगर आप एक स्टेप बाय स्टेप चैलेंज तो आपकी हर पोस्ट भूट बादिया होगी या उसमे कोई कामी नहीं होगी ।

पुरी कोस करे की पोस्ट को पब्लिश करने के बाद एडिट करने की जरुरत ना पाधे, या पुरी त्रि से पोस्ट तेयार होनेके बाद ही पब्लिश करे।. पर अगर कहीं कोई एडिट करने की जरुरत पड्डी है बाड तो कर सकते है उसमे भी कोई बुराई नहीं है । .

पोस्ट पब्लिश करने से पहले राखे बाते को ध्यान में रखें

पोस्ट लिखने की शुरुआत होती है कीवर्ड से, जिस्पर आपको पोस्ट लिखनी है । सबसे पहले तो आप जिस टॉपिक पर पोस्ट लिखने जा रहे हैं अगर आपको हमारी अच्छी जानकरी नहीं है तो सबसे पहले आप अपनी पूरी जानकरी ले। एफआईआर पोस्ट को लिखाना शुरू करे।

फेल शॉर्ट में देख लेटे है कैसे क्या करना है पोस्ट पब्लिश करने के लिए!

  • सबसे पहले विषय का चयन करें करे जिस्पर पोस्ट लिखना है।
  • हमारे विषय के वेयर मी पुरी जानकरी लेले।.
  • पोस्ट को लिख कर ड्राफ्ट मी सेव करडे।
  • एसईओ करे: शीर्षक, टैग, पोस्ट, छवि, पर्मलिंक सबका
  • प्रूफरीडिंग करे
  • एफआईआर प्रकाशित करे
  • जेसा मेने बटाया आगार आप प्रक्रिया से चलेग से आपकी हर पोस्ट लाजबाब होगी।
  • पोस्ट प्रकाशित करें करने से फेल एक युद्ध ऑन-पेज एसईओ भी जरुर चेक कर ले
  • चलिये अब सब पॉइंट्स को डिटेल में समाज लेटे है जिन हम चेक करना है हर एक पोस्ट को पब्लिश करने के फेल।

1: पोस्ट का शीर्षक आचा डेल पोस्ट मी

पोस्ट पब्लिश करने से पहले ये कंफर्म करे की क्या आपकी पोस्ट का शीर्षक आपकी पोस्ट के कंटेंट को दर्शता है। आपकी पोस्ट का टाइटल आसमान होना चाहिए, क्योनकी अगर आपकी पोस्ट का टाइटल ही बोरिंग होगा तो इस बात के बहुत सारे मौके हैं की आपकी पोस्ट को कोई ओपन ही नहीं करेगा ।

Blog Post Publish Karne Se Pehle Check Kare

इस बात का भी ध्यान रखिये की आप अपनी पोस्ट के टाइटल को इतना बड़ा चदा कर भी न लिखे की रीडर्स को पोस्ट में अपनी आशा के अनुसर कंटेंट न मिले, इस रीडर्स गुसा हो सके है जोकी आपके ब्लॉग के लिए किसी भी पारकर से फ़ेडेमंद नहीं होगा।

  • एक बेहतर पोस्ट टाइटल कैसे लिखे, उसके बार में डिटेल में जाने के लिए ये पोस्ट जरुर पधे:
  • ब्लॉग शीर्षक पोस्ट शीर्षक के बाद एसईओ के लिए
  • ब्लॉग पोस्ट शीर्षक लिखने के 6 बादिया टिप्स हिंदी मुख्य

2: व्याकरण या वर्तनी की गलतियों की जाँच करें

पोस्ट पब्लिश करने से पहले अपनी पोस्ट मुझे व्याकरणिक या वर्तनी की गलतियाँ को सुधारे। काई ब्लॉगर्स क्या करता है की अपनी पोस्ट की स्पेलिंग मिस्टेक्स पर ध्यान नहीं देते लेकिन जब रीडर्स पोस्ट को पढ़ते और उन मिस्टेक्स को देखते हैं तो एक गलत इंप्रेशन बंता है ।

आप चाहे तो अपने किसी दोस्त या परिवार के सदस्य को अपनी पोस्ट को प्रूफरीड करने के लिए कहा जा सकता है ताकी वो आपको उन गलतियों के बार में बीटीए सकन । हां फिर आप पोस्ट को एक युद्ध लिख कर ड्राफ्ट में सेव करडे एफआईआर 3-4 घंटे बाद फ्रेश माइंड से पोस्ट को एक रीडर के जैसे पुरा पाधे । . फिर जहां भी कोई गलता होगी आपको समाज आ जायगी।

ग्रामर मिस्टेक को साही करने के लिए आप ग्रामरली फ्री एक्सटेंशन का उपयोग जारुर करे।. ग्रामरली क्या है उसकी डिटेल में जानकरी है।.

3: पोस्ट को असानी से पधने लेके बणे

अपनी पोस्ट को शॉर्ट पैराग्राफ्स में लिखने की कोशिश करे, इससे रीडर्स को पोस्ट पढ़ने में आसनी होती है, और अपनी पोस्ट में हेडिंग, सब हेडिंग का उपयोग भी जार करे, इससे आपकी पोस्ट बड़ी लगी है और इससे रीडर्स भी अच्छे से पोस्ट का समाज पाटे है ।

पोस्ट मी आप जो जानकरी देना चाहतेे है हमें स्पष्ट तारिके से दे।. टेक्स्ट मी हाइलाइट, ब्लोड, इटैलिक का भी उपयोग करे ।

  • बादिया पोस्ट कैसे लिखे उसकी टिप्स के लिए ये पोस्ट भी पढ़े:
  • गूगल खोज परिणाम मुझे शीर्ष बराबर कैसे ले ब्लॉग पोस्ट को
  • एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट लिकने के 5 बडिया तारिके
  • ब्लॉगर मी न्यू पोस्ट कैसे लिके उसकी बेसिक जानकरी

4: इंटरलिंकिंग करे पोस्ट मी

अपनी पोस्ट मुझे इंटरलिंकिंग कर्ण एन भूलेन। इंटरलिंकिंग मतलाब पोस्ट मुझे अपने ब्लॉग की दुसरी पोस्ट का लिंक कर्ण जोड़ें। इंटरलिंकिंग कर्ण एसईओ के लिए भी कफी फेयमानंद होता है।

आंतरिक लिंकिंग कैसे करे उसकी सही जानकरी है ।

इस बात का ध्यान राखे की इंटरलिंकिंग का उपयोग पाठकों की सुविधा अनुसार करे यानी की हमें जगह पर पोस्ट को लिंक दे झन पर जरुरात है । इंटरलिंकिंग बाउंस रेट कम करने में भी मदद करती है ।

यह भी पढ़ें:  Airtel कंपनी का मालिक कौन है? Airtel कंपनी की स्थापना कब हुई थी?

5: श्रेणी और टैग का उपयोग करे

अपनी पोस्ट के लिए उपयुक्त श्रेणी और टैग का उपयोग करे। ऐसा करने से आपके पाठकों को आपका ब्लॉग असानी से नेविगेट करने में मदद मिलेगी और साथ ही सर्च इंजन को भी इस आपकी पोस्ट के टॉपिक का पता करने में मदद मिलेगी ।

Blog Post Publish Karne Se Pehle Check Kare

काई ब्लॉगर्स ये भी गलता करते हैं एक ही पोस्ट में बहुत सारी श्रेणियां और टैग का उपयोग करते हैं, कोशिश करे की एक पोस्ट के साथ 2-3 से ज्यादा श्रेणियां और 4-6 टैग से ज्यादा उपयोग एन करे ।

6: छवि ऑल्ट टैग या नाम का उपयोग करें

सबसे पहले तो ये ध्यान रखिये की अपनी पोस्ट में काम से काम 1 इमेज जरुर ऐड करे और उस्मान ऑल्ट टैग्स भी जरुर यूज करेन।

ऑल्ट टैग्स सर्च इंजन को बीटाटा है की इमेज किस बार में है, सर्च इंजन इमेज को अपने आप पढ़ें नहीं कर सकता। इसलीये अपनी पोस्ट इमेजेस मी ऑल्ट टैग्स जरुर करेन का उपयोग करते हैं ।

आपकी इमेज पोस्ट के कंटेंट के अनुसार होनी चाहिए । पोस्ट में बहुत सारी छवियां जोड़ने से भी बचेन, पोस्ट के लिए फ्री स्टॉक इमेज का उपयोग करे जो आप यहाँ से डाउनलोड कर सकते हैं ।

इमेज ऑल्ट टैग की बेटर अंडरस्टैंडिंग के लिए ये पोस्ट पाधे-एसईओ फ्रेंडली इमेज कैसे बनी

यह भी पढ़ें: 1 मिनट में Bank of Baroda में अपना Balance कैसे चेक करें? हिंदी में पूरी जानकारी!

7: फोकस कीवर्ड को धियान के अनुसर पोस्ट लिके

पोस्ट लिखतेे समय आपकी पोस्ट का एक फोकस कीवर्ड जरुर होना चाहिए । आपकी पोस्ट सर्च इंजन में आची रैंकिंग हसिल कर सक्ती है अगर आप फोकस कीवर्ड को सही जगह पर जगह करे।

Blog Post Publish Karne Se Pehle Check Kare

अपने पोस्ट के फोकस कीवर्ड को पोस्ट के शीर्षक, पर्मलिंक, मेटा विवरण और पोस्ट के पहले पैराग्राफ में विशेष रूप से करेन जोड़ें ।

8: कॉल-टू-एक्शन उपयोग करे मुझे पोस्ट करें

अपनी पोस्ट के आखिरी में सीटीए यानी कॉल-टू-एक्शन का उपयोग कर्ण एन भूलेन । कॉल-टू-एक्शन का मतलाब है कि आप अपने पाठकों से हमारे पोस्ट को पढ़ने के बाद क्या करना चाहिए है । मतलाब की अगर आप मोटिवेशन पोस्ट लिखी है तो आप चाहते हैं कि आपके रीडर्स पोस्ट पढ़ने के बाद पॉजिटिव एक्शन लेन।

अगर आप किसी उत्पाद की समीक्षा पोस्ट लिखी है तो आप चाहते हैं कि पोस्ट पढ़ने के बाद आपके पाठक हमारे उत्पाद को खरीद कर । फिर आप कॉल-टू-एक्शन का उपयोग पाठकों को पोस्ट पर कमेंट करने के लिए, आपके ब्लॉग को सब्सक्राइब करने के लिए, सोशल मीडिया पर फॉलो करने के लिए कर सकते हैं।